भाग्यलिपि

प्लेटफार्म पर रखी
वजन तुलने की मशीन पर
चढ़ गया कुत्ता
मैंने कौतुहलवश
एक रूपये का सिक्का
मशीन में डाल दिया
टिकट निकला
वजन आ गया था
और पीछे छपी थी
भाग्यलिपि
आपकी वाणी में
चमत्कार
शक्ति दातों में है
भारत का प्रजातंत्र
आपके हाथों में है ।

Advertisements

Leave a Reply

Please log in using one of these methods to post your comment:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s